26.02.2016 ►Acharya Shri VidyaSagar Ji Maharaj ke bhakt ►News

Posted: 26.02.2016
Updated on: 05.01.2017

Update

#todayPic #todayPravachan #AcharyaShri #KoniJi "भावों की पवित्रता भक्त को भगवान बना देती है" -आचार्य श्री

संसार में अनेको मणियां हैं परंतु पारस मणि का अपना अलग स्थान होता है क्योंकि उसके द्वारा लोहे को सोने में बदला जाता है परंतु यदि उस लोहे में जंग लगा हो तो वह पारसमणि भी काम नहीं करती और वो लोहे का लोहा ही रह जाता है, ठीक इसी प्रकार आपका जीवन है आपके पास कैसा लोहा है कहीं उसमे जंग तो नहीं लगा? भावो की अशुद्धि रूपी जंग यदि आपके जीवन में लगी है तो फिर स्वयं "पारस"प्रभु रूपी मणि भी आपको सोना नहीं बना सकती समय रहते अपने कलुषित भावों को त्यागे शरीर पर लगी इस जंग को निकालें तब ही रत्नत्रय पारस मणि आपको सोने में बदल देगी अपने भावो को शुद्ध रखें विचारो में शुद्धता लाएं बाह्य हवा पानी से खुद को जंग लगने से बचाये तब ही भक्त भगवान बन सकता है

'अहिंसा परमो धर्म' article written and sharing by Brajesh Jain -big thanks to him for article and pics

News in Hindi

आचार्यश्री विद्यासागर जी के नाम से शुरू होगी दुग्ध योजना ।

आज म प्र सरकार के द्वारा घोषित बित्तीय बजट में जैन समाज के परम पूज्यनीय संत शिरोमणि आचार्य श्री विद्यासागर जी महा मुनिराज के नाम से एक दुग्ध योजना की घोषणा वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया ने बिधानसभा भोपाल में की ।

यह योजना पशु पालकों के लिए शुरू की जा रही है । इस योजना से एक ओर पशु पालकों को रोजगार मिलेगा बही दूसरी ओर पशुओं को कत्लखाने जाने से स्वतः रोक लगेगी । बिस्तृत विवरण अपेक्षित है ।

इसके लिए हम मप्र सरकार के मुख्यमंत्री, बित्त मंत्री श्री जयंत मलैया जी, एवं श्री नितिन नांदगावकर को जिनकी इस मे महत्वपूर्ण भूमिका रही को बधाई देते हैं ।

Share this page on: