15.04.2017 ►Acharya Shri VidyaSagar Ji Maharaj ke bhakt ►News

Posted: 15.04.2017
Updated on: 16.04.2017

Update

आचार्यश्री 🙏🏻

Vardhmana mahavira svami @ in a meditative as illustrated in the unique calligraphed edition of the Constitution of India 🇮🇳 #share_maximum

••••••••• www.jinvaani.org •••••••••
••••••• Jainism' e-Storehouse •••••••

Video

Glorious Clip 😊 पैठन के चतुर्थक़ालीन भगवान मूनिसुव्रतनाथ जी का महा अभिषेक -सानिध्य आचार्य श्री शांतिसागरजी की परम्परा से आचार्य श्री वर्धमानसागर जी:)) #must_share 💐💐

••••••••• www.jinvaani.org •••••••••
••••••• Jainism' e-Storehouse •••••••

#Jainism #Jain #Digambara #Nirgrantha #Tirthankara #Adinatha #LordMahavira #MahavirBhagwan #RishabhaDev #Ahinsa #AcharyaVidyasagar

💐आचार्य श्री वर्धमानसागर जी 💐

News in Hindi

कल रात डोंगरगढ़ में पूनम का चाँद अपने पूरे शबाब पर था, मगर उससे कंही दिव्य प्रकाश चन्द्रगिरि की पहाड़ियों पर अठखेलियां कर रहा था जिसे देख चन्द्रमा के मन में शंका उपजी और उसका निदान.. कुछ पंक्तियों के माध्यम से प्रयास कर रहा हूँ

चन्द्रगिरि को देख चाँद भी लगा रहा है अपना ध्यान
सोच रहा है मुझसे ज्यादा कौन यंहा है आभावान?
जिसके दिव्य तेज के सम्मुख चांदनी मद्धिम हो गई
तारे भी टिम टिम करते हैं पर उनकी लौकिकता खो गई
मम चर्या से उजयारे का क्षणिक मात्र होता आभास
लेकिन आठों पहर यंहा पर कैसे फैला दिव्य प्रकाश??

तब मन्द पवन हौले मुस्काई पूर्ण चंद्र का आशय जान
बोली ओ अभिमानी चन्दा! मत कर इतना अरे गुमान
जिनके तप के दिव्य तेज से प्रकाशित है सकल जहान
चन्द्रगिरि पर आन विराजे पंचमयुग के वो भगवान्
श्री विद्या गुरुवर नाम सुहाना तीर्थंकर चर्या धारी
अधरों पर मुस्कान सोहती उतर निरख लो छवि प्यारी ।

💐💐💐 -ब्रजेश जैन सेठ, पाटन

••••••••• www.jinvaani.org •••••••••
••••••• Jainism' e-Storehouse •••••••

#Jainism #Jain #Digambara #Nirgrantha #Tirthankara #Adinatha #LordMahavira #MahavirBhagwan #RishabhaDev #Ahinsa #AcharyaVidyasagar

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के इतिहास में प्रथम बार जैन संत के श्री मुख से सुने श्री रामकथा का मार्मिक उद्बोधन जो आप तक जिनवाणी चैनल के सहयोग से हम पहुँचने का प्रयास कर रहे है इस का *प्रसारण* आप 15th से *शाम 7 बजे* से *जिनवाणी चैनल* में देख सकते है और इस सन्देश को बाक़ी साधर्मी भाइयों और बहनों के साथ बाट सकते है।

#आचार्यश्री_विद्यासागरजी महाराज (ससंघ) इस समय डोंगरगढ़ (छग.) में विराजमान हैं। #डोंगरगढ़ नेशनल हाईवे से 22 किमी की दूरी पर है और रायपुर से 135 किलोमीटर दूरी पर है। रेलवे स्टेशन डोंगरगढ़ है एवं दुर्ग रेलवे जंक्शन पर सभी ट्रेनों का स्टॉपेज है। अधिक जानकारी हेतु...

निशांत जैन: +91-09301301540

किशोर जैन (अध्यक्ष): +91-9425563160

सुभाषचंद जैन (कोषाध्यक्ष): +91-9301001473

सप्रेम जैन (प्रतिभा स्थली प्रभारी): +91-9300622051

कार्यालय: +91-7489087040

••••••••• www.jinvaani.org •••••••••
••••••• Jainism' e-Storehouse •••••••

#Jainism #Jain #Digambara #Nirgrantha #Tirthankara #Adinatha #LordMahavira #MahavirBhagwan #RishabhaDev #Ahinsa #AcharyaVidyasagar

Share this page on: