23.04.2017 ►Jeevan Vigyan Academy ►News

Posted: 24.04.2017

http://www.herenow4u.net/fileadmin/v3media/pics/organisations/Jeevan_Vigyan_Academy/Jeevan_Vigyan_Logo__New_.jpg

Jeevan Vigyan Academy


News in Hindi

सादर प्रकाषनार्थ

आचार्यश्री महाप्रज्ञजी की आठवीं पुण्यतिथि पर संगोश्ठी व जीवन विज्ञान का भव्य कार्यक्रम
जीवन विज्ञान को षिक्षा में लागू करने की कोषिष करूंगा: षिक्षा मंत्री

भिवानी, 23 अप्रैल 2017।

आचार्यश्री महाप्रज्ञजी की आठवीं पुण्य तिथि पर लोहड़ बाजार स्थिति तेरापंथ भवन में आचार्यश्री महाश्रमण के आज्ञानुवर्ती सत प्रेक्षाप्राध्यापक ‘षासनश्री’ मुनिश्री किषनलालजी के सान्निध्य में भव्य कार्यक्रम आयोजित किया गयज्ञं षिक्षा मंत्री श्री रामबिलास षर्मा ने आचार्यश्री महाप्रज्ञजी के संस्मरणों को सुनाते हुए कहा कि आचार्यश्री महाप्रज्ञ एक चलते फिरते विष्वविद्यालय थे। उन्होंने जीवन विज्ञान की षिक्षा दी। षिक्षा, संस्कार, संस्कृति भारत का पेटेन्ट रहा है। एक तरफ भारत की विचार धारा दूसरी तरफ पष्चिम की संस्कृति है। भारत का संकल्प पूरी दुनिया को दोहराता है।
उन्होंने आगे कहा कि जहां संत विराजते हैं वहां की धरती तपोभूमि हो जाती है आचार्यश्री महाप्रज्ञजी का 2006 का चातुर्मास हुआ उन्होंने जीवन विज्ञान के कार्य को आगे बढ़ाया। भिवानी हमारी काषी है यहां आचार्य महाप्रज्ञजी के नाम से जीवन विज्ञान की अखण्ड ज्योति जलनी चाहिए। मुनिश्री किषनलालजी परिश्रम कर जीवन विज्ञान के कार्य को आगे बढ़ा रहे हैं।
उन्होंने मुनिश्री किषनलालजी के विचारों से प्रेरित होकर जीवन विज्ञान को हरियाणा में लागू करने के लिए प्रयास करने की बात कही।
प्रेक्षा प्राध्यापक ‘षासनश्री’ मुनिश्री किषनलालजी ने आचार्यश्री महाप्रज्ञजी के निर्वाण दिवस पर भावांजलि अर्पित करते हुए कहा कि व्यक्ति को अपने जीवन को समझना चाहिए, उसे समझने के लिए जीवन विज्ञान जीने का तरीका बताता है। जीवन विज्ञान में बताया जाता है कि सीधे खड़े रहें, सीधे चलें और सीधे रहें हमारी रीढ़ की हड्डी सीधी रहती है विचार भी अच्छे आते हैं और याददास्त भी अच्छी रहती है। मनुश्य की भाशा में मधुरता, षालीनता के साथ संकल्प मजबूत होना चाहिए। इस दौरान मुनिश्री ने जीवन विज्ञान के प्रयोग भी करवाये साथ लोगों ने जागरूकता के साथ अभ्यास किया।
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में हरियाणा सरकार के षिक्षा मंत्री श्री रामबिलास षर्मा, हरियाणा पषुपालन विकास बाॅर्ड पंचकुला के श्री ऋशिप्रकाष षर्मा, हरियाणा के पूर्व मंत्री व विधायक श्री घनष्यामदास सर्राफ, अणुव्रत समिति नई दिल्ली के राश्ट्रीय अध्यक्ष श्री सुरेन्द्र जैन (एडवोकेट), भिवानी के बाबा जगतनाथ, जैन ष्वेताम्बर तेरापंथी सभा भिवानी के अध्यक्ष श्री माणकचन्द नाहटा, मंत्री श्री विकास जैन, हांसी सभा अध्यक्ष श्री दर्षनलाल जैन, हांसी महिला मण्डल अध्यक्षा श्रीमती सुदेष जैन, भिवानी महिला मण्डल अध्यक्षा श्रीमती सारिका जैन, आदि अनेक गणमान्य व्यक्ति व आसपसास के गांवों के बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।
इस अवसर पर मुनि निकुंज कुमारजी, समण सिद्धप्रज्ञजी, श्री रमाकांत षर्मा, श्री घनष्यामलाल, श्री ऋशिप्रकाष षर्मा, श्री गणेषसिंह ठाकुर, श्री सी.एम. बंसल, बाबा जगतनाथ, श्री सुखदान, हांसी तेरापंथ महिला मण्डल ने गीतिका प्रस्तुत की व हांसी महिला मण्डल अध्यक्षा श्रीमती सुदेष जैन ने वक्तव्य दिया व भिवानी कन्या मण्डल, श्रीमती सुनीता नाहटा आदि ने वक्तव्य व गीत के माध्यम से भावांजलि दी। कार्यक्रम का संचालन श्री रमेष बंसल ने किया।

- अषोक सियोल
8112276722 / 9891752908
संलग्न - कार्यक्रम फोटो

34083785192

2017.04.23 Jeevan Vigyan Academy News 01

34240616755

2017.04.23 Jeevan Vigyan Academy News 02

33856790060

2017.04.23 Jeevan Vigyan Academy News 03

33856790790

2017.04.23 Jeevan Vigyan Academy News 04

Share this page on:

Source/Info

jeevan vigyan