JAIN STAR News

Posted: 05.06.2017
Updated on: 06.06.2017

Jain Star


JAIN STAR News

दस दिवसीय शिविर संपन्न
Jain Star News Network | Jun 04, 2017
उदयपुर।श्री जैनाचार्य देवेन्द्र महिला संस्थान की ओर से जैनाचार्य देवेन्द्र मुनि गौरव पथ स्थित देवेन्द्र धाम में पिछले 10 दिनों से आयोजित शिविर का आज रविवार,4 जून को समापन हुआ ।समापन समारोह के अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि महापौर चन्द्रसिंह कोठारी ने कहा कि जीवन में नैतिकता नहीं तो संस्कार नहीं आ सकते है।इस अवसर पर ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा ने कहा कि श्री जैनाचार्य देवेन्द्र महिला संस्थान ने बच्चों में जो संस्कार डालने की बीड़ा उठाया है वह आगे जा कर नये पौध के रूप में पल्लवित होगा।श्री जैनाचार्य देवेन्द्र महिल ने अपने प्रवचन में कहा कि जीवन में दिये जाने वाले संस्कार के अनुरूप ही बच्चें उसका आचरण करते है।
समापन समारोह के अवसर पर नन्हें-नन्हें बच्चों ने नृत्य की मनोहारी प्रस्तुति दे कर सभी का मन जीत लिया। बच्चों ने।.... मुन्हें बच्चें, दांत हमारें कच्चें है, कभी न झूठ बोलेंगे, दिल किसी का ना दुखायेंगे,.. अरे माता-बहिनों जरा ये बता दो,मंदिर में श्रृगार भला किस लिये है,.. चुनरी मंगा दे..,जैनम जयती शासनम.. सहित बालिकाओं ने चरी नृत्य के साथ-साथ सेव वाटर, वृद्धाश्रम एवं नेत्रदान पर नाटकों की प्रस्तुति दे कर सभी उपस्थितों का मन जीता ।
समारोह में बालिकाओं ने शिविर के दौरान सीखे योग एवं मार्शल आर्ट का प्रदर्शन किया। बालिका कामाख्या ने दस दिनों के दौरान अर्जित किये गये ज्ञान एवं अपने अनुभव साझा किए ।
समारोह में आए अतिथियों,सेवा सहयोगी एवं भामाशाहों में चन्द्रसिंह कोठारी, फूलसिंह मीणा,इन्दरसिंह मेहता, रंजना मेहता, समाज सेवी किरणमल सावन सुखा,पूर्व जिला शिक्षाधिकारी धर्मचंद नागौरी सुशीला नागौरी, भुवाणा सरपंच संगीता चित्तौड़ा, पूर्व सरपंच अनिल चित्तौड़ा,भीमराज रांका,सम्पत कोठारी,गणेशलाल सहलोत,वीरेन्द्र डांगी, गणेशलाल गोखरू,मानसिंह रांका,हीरालाल रांका का पगड़ी उरपना ओढ़ाकर एवं स्मृतिचिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया।
शिविर में बच्चों को धर्म की कक्षा राजकुमारी पोरवाल, नीतू नावेडिया, आर्ट एण्ड पेन्टिंग की कक्षाएं विजयलक्ष्मी सामर, रेखा चित्तौड़ा, चिन्मय,प्रेम नाहर, ललिता बापना, योगा एवं नृत्य की कक्षा अषोक, गोपाल एवं शीतल जोशी के अलावा शि विर सहयोगी के रूप में अनिता भण्डारी, रूपी बाई,संध्या नाहर, मधु खमेसरा, रंजना चौहान,लीला नाहर, तरूणा,स्नेहा सिसोदिया एवं मीना बोकड़िया ने सहयेाग दिया।
प्रारम्भ में संस्थान अध्यक्ष डॉ. सुधा भण्डारी ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि संस्थान द्वारा अब तक करीब 2 हजार से अधिक बालक-बालिकाओं ने संस्कार शिविर का लाभ लिया है। समय परिवर्तन के दौर में बच्चों को अपने संस्कार से जोड़े रखने के लिये ये शिविर काफी महत्वपूणू भूमिका अदा करते है।
मंत्री ममता रांका ने बताया कि इस अवसर पर संस्थान की महिलाओं ने स्वागत गीत पर नृत्य की प्रस्तुति दी। समारोह में बच्चों ने नवकार मंत्र पर नृत्य की प्रस्तुति दी। उन्होेंने बताया कि बच्चों ने शिविर में 2-2 घंटे की सामयिक की । बालिकाओं ने संस्कारों पर नाटिका की प्रस्तुति देकर सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा। दस दिसीय शिविर में बालक-बालिकाओं की ओर से बनाए गए आर्ट एवं पेन्टिंग उत्पादों की प्रदर्शनी भी लगायी गई जिसे आगन्तुको ने सराहा।अंत में संस्था मंत्री ममता रांका ने आभार ज्ञापित किया।

Share this page on:

Source/Info

JAIN STAR