26.09.2017 ►Acharya Shri VidyaSagar Ji Maharaj ke bhakt ►News

Published: 26.09.2017
Updated: 28.09.2017

Update

दिल्ली सरकार के स्वस्थ्य मंत्री सतेन्द्र जैन 150 लोगो के साथ रामटेक आये और आचार्य श्री विद्यासागर जी दर्शन कर उनसे चर्चा की और 108 दिन के लिए रोज सिर्फ 1 समय भोजन का नियम लिया:) Health Minister of Delhi Govt / AAP Satyendar Jain visits Ramtek with 150 people and, took blessings of Acharya Vidyasagar G and taken a vow to have only one time meal in a day for 108 days. #AcharyaVidyasagar #SatyendarJain

🎧 e-Storehouse • www.jinvaani.org 📚 Have Rational Insight/Knowledge..

Update

आचार्य श्री विद्यासागर जी द्वारा Mobile/Internet/Social media/Facebook etc का सही उपयोग कैसे कर करे.. पर प्रवचन क्लिप कुछ ही दिन पहले की रामटेक से.. #shareMaxium ताकि हर कोई समझे और follow करे 🙂

1 दिन नहीं.. 1 धंटे में आप फैलाना चाहो तो फैला सकते हो.. ऐसे साधन ले रखो हो, पुरे भारत में फैला सकते हो.. आपको फैलाना ही नहीं हैं तो हम क्या कर सकते हैं? अपने मतलब की चीज़ होती हैं तो आधा धंटा नहीं आधा मिनट में... कहा आहार हुआ कहा मुड गए.. स्वार्थी नहीं सारथि बनो -आचार्य विद्यासागर जी

आचार्य श्री का सन्देश यह हैं की हम जिनवाणी को समझे और फैलाये और धर्मं प्रभावना में सहयोगी बने.. और इन साधनों [ Internet, Mobile, camera, Social Media, facebook, Whatsapp etc ] का सही उपयोग करे #AcharyaVidyasagar

clip was recorded 10 day ago at Ramtek, shared by Mr. Amit Jain from Ranchi -Big thanks him!

🎧 e-Storehouse • www.jinvaani.org 📚 Have Rational Insight/Knowledge..

Video

आचार्य गुरु विद्यासागरजी महाराज के परम प्रभावक शिष्य क्षुल्लक श्री ध्यान सागरजी महाराज द्वारा भक्तामर स्तोत्र पर प्रवचन
२६-०९-१७

https://youtu.be/32fVM8XtUJs

Sources
Share this page on:
Page glossary
Some texts contain  footnotes  and  glossary  entries. To distinguish between them, the links have different colors.
  1. Acharya
  2. Acharya Vidya Sagar
  3. Acharya Vidyasagar
  4. Amit Jain
  5. Delhi
  6. JinVaani
  7. Ramtek
  8. Sagar
  9. Vidya
  10. Vidyasagar
  11. आचार्य
  12. दर्शन
  13. धर्मं
Page statistics
This page has been viewed 339 times.
© 1997-2020 HereNow4U, Version 4
Home
About
Contact us
Disclaimer
Social Networking

HN4U Deutsche Version
Today's Counter: