26.08.2019 ►Thane ►Anuvrat Workshop in Presence of Sadhvi Anima Shree

Published: 31.08.2019
Updated: 31.08.2019

Thane: 26.08.2019

Workshop UNMESH was organised for functionaries of Any rat in presence of Sadhvi Anima Shree and Sadhvi Mangal Pragya. De-addiction rally was taken out. Sadhvi Anima Shree told efficiency can be increased by training. She recalled contribution of Acharya Tulsi for uplifting moral values in society. Sadhvi Mangal Pragya told Anuvrat movement believe in moral values and character building. Sadhvi Sudha Prabha told every person has some power, she advised to use it for positive things. Sadhvi Maitri Prabha and Sadhvi Karnika Shree, Sadhvi Samatva Yaha and Sadhvi Sudha Prabha presented song.

Chief guest Madanlal Tater and chief speaker Sushil Bafana also addressed to participants. President of Anuvrat Samiti Ramesh Chaudhary welcomed all. Ganpat Dagalia read out anuvrat code of conduct.function was compered by Chetan Kothari. Jyothi Ramchandran principal of Acharya Mahapragya public school expressed her views. Jitendra Barlota gave vote of thanks.
अणुव्रत कार्यकर्ता कार्यशाला उन्मेष का आयोजन
ठाणे। साध्वी श्री आणिमाश्रीजी एवं साध्वी श्री मंगलप्रज्ञाजी के सानिध्य में तेरापंथ भवन के रमणीय हॉल में अणुव्रत समिति मुम्बई के तत्वाधान में अणुव्रत कार्यकर्ता प्रशिक्षण कार्यशाला उन्मेष का आयोजन किया गया, जिसमे अच्छी संख्या में भाई बहनों ने भाग लिया। कार्यक्रम से पूर्व नशा मुक्ति रैली का आयोजन हुआ, जिसमें लोगों द्वारा "नशा नाश का द्वारा है, यह संदेश जन-जन तक पहुंचाया एवं नुक्कड़ पर नशा मुक्ति पर नाटिका का मंथन किया।
साध्वी श्री आणिमाश्रीजी ने प्रेरणादायी उद्बोधन में कहा प्रशिक्षण जीवन को प्रशस्त बनाने का पथ है। कार्यशैली को प्रभावी बनाने के लिए कार्यकर्ता सहजता,मधुरता व सरसता की त्रिवेणी में अभिस्नान होकर अणुव्रत आचार-संहिता को जीवनगत करने का प्रयास करें। कार्यकर्ता के अंदर सर्वजन हिताय की भावना है। परस्पर सहयोग की भावना हो। स्वभाव में धैर्य हो, मन में विशालता हो, जिव्हा में मधुरता हो, आंखों में स्नेह की धार हो, ऐसे कार्यकर्ता जिस संस्था से जुड़ते है, उसको विकास के शिखर पे पहुचा देंते है। अणुव्रत समिति मुम्बई के कार्यकर्ता इन गुणों का आत्मसात कर अणुव्रत समिति को ठोस धरातल दे। हमें प्रसन्नता है अणुव्रत समति मुम्बई जागरूक संस्था है, अच्छे कार्य कर रही है, अब और अधिक करना है, क्योंकि महाप्रभु स्वयं चलकर आपके द्वार आ रहे। उनकी अगवानी में अणुव्रती कार्यकर्ताओ की एक फ़ौज तैयार करती है। सबके प्रति मंगलकामना।
साध्वी श्री मंगलप्रज्ञाजी ने प्रेरणा-पाथेय प्रदान करते हुए कहा अणुव्रत चारित्रिक शुद्धि का आंदोलन है, नैतिकता का आंदोलन है। नशामुक्ति का आंदोलन है। चरित्र रूपी चाबी को नीचे रखकर कोई व्यक्ति विकास के शिखर पर आरोहण नही कर सकता। आदर्श कार्यकर्ता वह है जो चरित्रसम्पन्न होता है, जो श्रमशील होता है, जो चिंतनशील है, जो सहनशील है। ये पंचशील कार्यकर्ता के दिशा सूचक यंत्र है। इन गुणों से संपन्न कार्यकर्ता अपनी संस्था को नई ऊंचाइयां प्रदान करते है। हमने देखा मुम्बई अणुव्रत समिति एक सक्रिय संस्था है। सक्रिय कार्यकर्ता ही संस्था को सक्रिय बना सकते है। सक्रियता के साथ संघ प्रभावक कार्यक्रम करें। मंगलकामना।
साध्वी सुधाप्रभाजी ने अपने व्यक्तत्व मे कहा हर व्यक्ति में शक्ति होती है। जो व्यक्ति सृजमात्मक शक्ति का, पोसिटिव एनर्जी का उपयोग करता है। वह नम्बर वन कार्यकर्ता बन सकते है। कार्यकर्ता के भीतर उत्साह की अंखड लौ प्रज्वलित रहनी चाहिए। अणुव्रत समिति मुम्बई के कार्यकर्ताओं में उत्साह परिलक्षित हो रही है और उसीकी निष्पत्ति है, कार्यक्रमो की समयोजना। सूत्र के कतरे-कतरे में उत्साह के संचार हो ताकि दो हजार तेईस में अणुव्रत ही अणुव्रत दृग्गोचर हो।
साध्वी सुधाप्रभाजी, साध्वी कर्णिकाश्रीजी, साध्वी स्मतव्यशाजी व साध्वी मैत्रीप्रभाजी ने सुमधुर गीत का संगान किया।
मुख्य वक्ता अणुव्रत महासमिति के प्रचार-प्रसार मंत्री सुशील बाफना ने सर्गरित शब्दो में अणुव्रत की पृष्ठ भूमि रखी। 2023 आचार्य महाश्रमण चातुर्मास व्यवस्था समिति मुम्बई के अध्यक्ष मदनलाल तातेड़ मुख्य अतिथि ने अपने विचार रखे। कार्याध्यक्ष रोशन मेहता, अणुव्रत समिति मुम्बई के अध्यक्ष रमेश चौधरी, कोषाध्यक्ष रमेश सोनी, ठाणा सभाध्यक्ष देविलाल श्रीश्रीमाल, ठाणा क्षेत्रीय संयोजक लक्ष्मीलाल सिंघवी, महाप्रज्ञ पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल ज्योति रामचंद्रन ने अपने विचारों की सटीक प्रस्तुति दी। अणुव्रत आचार संहिता का वाचन निवर्तमान अध्यक्ष गणपत डागलिया ने किया। मंगल संगान अणुव्रत समिति के कार्यकर्ताओं ने किया कार्यक्रम का कुशल संचालन अणुव्रत समिति के मंत्री चेतन कोठारी ने प्रभावी ढंग से किया। ठाणा सभा मंत्री जितेंद्र बरलोटा ने आभार ज्ञापन किया।
अर्जुन चौधरी, निर्मल श्रीश्रीमाल, कैलाश गोयल, अभिषेक गोयल, नितेश धाकड़, दिनेश धाकड़, विजय संचेती, नरेश बाफना, अभयराज चोपड़ा, महेंद्र पुनमिया, हसमुख श्रीश्रीमाल, कमलेश दुग्गड़, रमेश हिंगड़, मदन दुग्गड़, वसंत कुमठ, दिलीप धिंग, माणक कोठारी,ख्याली कोठारी,मदन जैन, चंद्रप्रकाश बोहरा, सुरेश बाफना, विमल गादिया, सज्जन बम्ब, संजय बोहरा,राजेन्द्र कुमठ, प्रेमलता सिसोदिया, कंचन सोनी, विद्या सोनी, प्रियंका जैन, मीना बाफना,v ललित सोनी, मंजू संचेती, विमला जैन, कल्पना मेहता, रेखा बाफना, निर्मल ओस्तवाल, पवन ओस्तवाल, विनोद बडाला, आदि अनेक कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही।

Sadhvi Anima Shree

Audience

Sushil Bafana

Sources
Sushil Bafana
Share this page on:
Page glossary
Some texts contain  footnotes  and  glossary  entries. To distinguish between them, the links have different colors.
  1. Acharya
  2. Acharya Mahapragya
  3. Acharya Tulsi
  4. Anuvrat
  5. Anuvrat Code Of Conduct
  6. Anuvrat Movement
  7. Chetan
  8. Mahapragya
  9. Maitri
  10. Pragya
  11. Sadhvi
  12. Sadhvi Anima Shree
  13. Sadhvi Karnika Shree
  14. Sadhvi Maitri Prabha
  15. Sadhvi Mangal Pragya
  16. Sadhvi Sudha Prabha
  17. Samatva
  18. Samiti
  19. Sushil Bafana
  20. Thane
  21. Tulsi
  22. आचार्य
  23. आचार्य महाश्रमण
  24. मुक्ति
  25. शिखर
  26. सुशील बाफना
Page statistics
This page has been viewed 194 times.
© 1997-2020 HereNow4U, Version 4
Home
About
Contact us
Disclaimer
Social Networking

HN4U Deutsche Version
Today's Counter: