24.05.2011 ►Live Peaceful Life◄ Sadhvi Ujjwalrekha

Published: 25.05.2011
Updated: 21.07.2015

News In English

Location:

Jasol

Headline:

Live Peaceful Life ◄ Sadhvi Ujjwalrekha

News:

Three days’ workshop for Knaymandal ended today. Sadhvi Ujjwalrekha advised kanyamandal to live peaceful life and to get peace apply Sanyam in life. 121 teenager girls took part in workshop. Sadhvi Labdhi shree give training on right use of Man Power, Money Power and Management Power. Sadhvi Bhanu kumari, Sadhvi Amritprabha, Sadhvi Hemyasha also addressed kanyamandal. Mumukshu Pariamal Parlu, Puja, Monika, Bhavana give full time to manage workshop. Yoga training was also given to girls.

News in Hindi:

कन्याओं ने जाना संयम का मार्ग-साध्वी उज्ज्वलरेखा

कन्याओं ने जाना संयम का मार्ग

जसोल 25 मई 2011 (जैन तेरापंथ न्यूज ब्योरो) सवाददाता

पारमार्थिक शिक्षण संस्थान लाडनू एवं श्री जैन श्वेतांबर तेरापंथी सभा जसोल के संयुक्त तत्वावधान में सिवांची मालाणी स्तरीय त्रिदिवसीय आंचलिक कन्या शिविर का समापन समारोह नया ओस्तवाल भवन में हुआ। 

जसोल. कार्यक्रम को संबोधित करती- साध्वी उज्ज्वलरेखा साध्वी मानु कुमारी, साध्वी अमृतप्रभा व साध्वी हेमयशा

कन्याओं व श्रावक-श्राविकाओं को संबोधित करते हुए साध्वी उज्ज्वलरेखा ने कहा कि यदि व्यक्ति में आत्मविश्वास प्रबल हो तो साधु मार्ग कठिन नहीं है। उन्होंने कहा कि संसार में भी सुख और शांतिमय जीवन ही जीना चाहिए। उन्होंनेे कहा कि अच्छे श्रावक बनें। साध्वी ने कहा कि संयम का मार्ग चुनने से आत्मविश्वास प्रबल होता है। साध्वी लब्धिश्री ने मैन पॉवर, मनी पॉवर व मैनेजमेंट पॉवर का सदुपयोग करने की बात कही। 

शिविर संयोजक मोतीलाल जीरावला ने बताया कि शिविर में 121 शिविरार्थियों ने भाग लिया। उन्होंने शिविरार्थियों के प्रति आभार जताते हुए कहा कि पे्ररणा से जीवन बदला जा सकता है। शिविर में साध्वी मानु कुमारी, साध्वी अमृतप्रभा व साध्वी हेमयशा आदि का सान्निध्य भी मिला। समारोह में मुमुक्षु परिमल पारलू, मुमुक्षु पूजा, मुमुक्षु मोनिका व मुमुक्षु भावना ने भी अपने विचार व्यक्त किए। मुमुक्षु मर्यादा के निर्देशन में डेमो का प्रदर्शन किया गया जिसमें नववार महामंत्र पर विभिन्न योगा-प्रेक्षाध्यान क्रियाएं करवाई गई। 

जसोल. कार्यक्रम में उपस्थित बालिकाएं।

मुमुक्षु पूजा असाडा ने नन्हे-मुन्हे बच्चों के साथ प्रोग्राम डॉन्ट मी यूज करवाया। इससे पूर्व समारोह का शुभारंभ तेरापंथ कन्या मंडल जसोल की ओर से मंंगलाचरण के साथ हुआ। शिविर में मिलन संकलेचा, स्नेहा डोसी, निधि सालेचा, शिल्पा गोलेच्छा सहित कई कन्याओं ने विचार व्यक्त किए। समारोह को तेरापंथ सभा अध्यक्ष बाबूलाल लूंकड़, 2012 चातुर्मास संयोजक गौतमचंद सालेचा, घेवरचंद मेहता, तेयुप अध्यक्ष महेंद्र आर तातेड़, लीलादेवी सालेचा ने भी संबोधित किया। शिविर में शांतिलाल भंसाली, माणकचंद संकलेचा, गौतमचंद भंसाली, तेयुप के पूर्व अध्यक्ष कांतिलाल जैन, मंत्री जितेंद्र सालेचा व प्रवीण भंसाली सहित कई कार्यकर्ताओं का सहयोग मिला। समारोह का संचालन उपासिका भाग्यश्री ने किया।

उत्साह से सीखे योग के गुर 

जसोल. योग की क्रियाएं बताती योग शिक्षिका।

25 मई 2011 (जैन तेरापंथ न्यूज ब्योरो) सवाददाता

शिविर के दौरान मुमुक्षु मर्यादा के निर्देशन में सिखाए गए योग की क्रियाओं में छात्राओं ने उत्साह के साथ भाग लिया। मुुमुक्षु की ओर से सिखाईगईयोग की विभिन्न मुद्राओं के दौरान शिविरार्थियों की ओर से एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दी गई। योग की मुद्राओं को देखकर दर्शक अभिभूत नजर आए। मुमुक्षु ने बताया कि योग से शारीरिक विकार दूर होने के साथ मन भी शुद्ध होता है। नियमित योगाभ्यास से मानव रोग मुक्त रहता है।

Sources
Jain Terapnth News

News in English: Sushil Bafana

Share this page on:
Page glossary
Some texts contain  footnotes  and  glossary  entries. To distinguish between them, the links have different colors.
  1. Bhavana
  2. Jain Terapnth News
  3. Jasol
  4. Kanyamandal
  5. Labdhi
  6. Mumukshu
  7. Puja
  8. Sadhvi
  9. Sadhvi Bhanu Kumari
  10. Sadhvi Hemyasha
  11. Sadhvi Labdhi Shree
  12. Sadhvi Ujjwalrekha
  13. Sanyam
  14. Sushil Bafana
  15. Yoga
  16. पूजा
Page statistics
This page has been viewed 1656 times.
© 1997-2020 HereNow4U, Version 4
Home
About
Contact us
Disclaimer
Social Networking

Today's Counter: