23.07.2011 ►Nathdwara► Sanyam Paves Way For Liberation◄Muni Jatan Kumar

Published: 23.07.2011
Updated: 21.07.2015

Short News in English:

Location:

Nathdwara

Headline:

Sanyam Paves Way For Liberation◄ Muni Jatan Kumar

News:

Muni Jatan Kumar told that human life judged as best and reason of that is Sanyam. Non-attachment, less desires, morality are key points to develop Sanyam. Muni Anand Kumar also spoke.

News in Hindi:

नाथद्वारा - संयम से मिलता है जन्म-मरण से छुटकारा: मुनि जतन

Jain Terapnth Newsनाथद्वारा 22 JULY 2011 जैन तेरापंथ न्यूज ब्योरो सेवा

मुनि जतन कुमार (लाडनूं) ने कहा कि बहुचर्चित जैन पांडव चरित्र की प्रेरणा है कि हर इंसान को जन्म-मरण से छुटकारा संयम से मिलता है।

मुनि गुरुवार को नाथद्वारा में चातुर्मास प्रवास के दौरान नई हवेली चौक स्थित तेरापंथ सभा भवन में जैन पांडव चरित्र व्याख्यानमाला में प्रवचन दे रहे थे। मुनि ने कहा कि प्रत्येक मनुष्य के जीवन की श्रेष्ठता का आधार संयम है। अनासक्ति, इच्छाओं का अल्पीकरण व नैतिकता से संयम का विकास होता है। संयम जीवन का सौंदर्य है। संयम से आंतरिक विकार नष्ट होते हैं। जहां असंयम होता है, वहां राग-द्वेष बढ़ता है। राग-द्वेष से जन्म-मरण बढ़ता है। जन्म-मरण से छुटकारा पाने के लिए संयम की साधना करनी चाहिए। मुनि आनंद कुमार (कालू) ने कहा कि लोग पत्थर को रत्न मानते है, परंतु वास्तव में रत्न अन्न, जल, सुभाषित वचन है। वर्तमान में तीनों के प्रति असंयम बढ़ रहा है। इसके कारण नैतिक मूल्यों का पतन हो रहा है।

तेरापंथ कन्या मंडल का अधिवेशन आज:
तेरापंथ महिला मंडल नाथद्वारा के तत्वावधान में तेरापंथ कन्या मंडल का द्विवार्षिक अधिवेशन शुक्रवार को तेरापंथ सभा भवन में शाम सात बजे होगा। यह जानकारी तेरापंथ महिला मंडल अध्यक्ष मंजू मूथा ने दी।

तेले तप संकल्प लिए:
मुनि जतन कुमार के सान्निध्य में लक्ष्मी जैन, चंद्रा कच्छारा ने तेले तप का संकल्प लिया।

Sources
Jain Terapnth News

News in English: Sushil Bafana

Share this page on:
Page glossary
Some texts contain  footnotes  and  glossary  entries. To distinguish between them, the links have different colors.
  1. Anand
  2. Jain Terapnth News
  3. Muni
  4. Muni Anand Kumar
  5. Muni Jatan Kumar
  6. Nathdwara
  7. Sanyam
  8. Sushil Bafana
  9. लक्ष्मी
Page statistics
This page has been viewed 1329 times.
© 1997-2020 HereNow4U, Version 4
Home
About
Contact us
Disclaimer
Social Networking

Today's Counter: