16.04.2017 ►STGJG Udaipur ►News

Posted: 16.04.2017

News in Hindi

सात साल के #जैन_संत; खिलौनों से खेलते हैं, अंग्रेजी भी सीख रहे हैं जीेते हैं कठिन जिंंदगी
मुनिराज बाल संत रम्यरत्न। उम्र सात साल। तीन महीने पहले दीक्षा ली। जिस तरह से जैन संत संयम और कठोर जीवन जीते हैं, ठीक वैसा ही इनका जीवन है। सुबह पांच बजे उठना, धार्मिक क्रिया करना। नवकारसी, शाम को प्रतिक्रमण करना। जमीन पर सोना आदि। हालांकि दोपहर में समय मिलता है तो इनका बचपन लौट आता है। कुछ देर खिलौनों से खेलते हैं। वायलिन बजाते हैं। अंग्रेजी भी सीख रहे हैं। पुष्करवाणी गु्रप ने जानकारी लेते हए बताया कि इनके गुरु आचार्य विश्वरत्नसागर सूरीश्वर का कहना है कि रम्यरत्न श्वेतांबर जैन समाज के संतों में सबसे कम उम्र के हैं।

Share this page on: