07.07.2017 ►Acharya Shri VidyaSagar Ji Maharaj ke bhakt ►News

Posted: 07.07.2017
Updated on: 09.07.2017

Update

अन्यथा शरणं नास्ति, त्वमेव शरणं मम ।
तस्मात् कारूण्यभावेन, रक्ष रक्ष जिनेश्वर ।

Now page is reaching towards 70,000 Likes as today it has crossed 69,000 Already 😇😇 thankU everyone 🙏🔥

आज का अनुपम द्रश्य -प्रक्रति की गोद बैठे #आचार्यविद्यासागर जी! चरण दबाते अन्य मुनिराज.. हरियाली छांव में प्रसन्नता के क्षण 🙃🙃🔥 #shareMaximum Sunday को #रामटेक में प्रवेश की प्रबल सम्भावना:)

आचार्यश्री ने अपने मंगल प्रवचनों में कहा कि समवशरण में सब कुछ प्राप्त हो जाता है। लेकिन सम्यग्दर्शन मिले जरूरी नहीं। बाहरी कारण मिलने के साथ भीतरी कारण मिले यह नियम नहीं होता। अंतरंग निमित्त बहुत महत्वपूर्ण होता है। चक्रवर्ती भरत के 923 बालक जिन्होंने कभी नहीं बोला वे दादा तीर्थंकर से 8 वर्ष पूर्ण होने के बाद कहते हैं कि हमें भगवन हमें दीक्षा प्रदान करें। साक्षात तीर्थंकर भगवान का निमित्त पाकर बिना उपदेश सुने ही स्वयं दीक्षित हो जाते हैं। यह समवशरण का अतिशय है। वे दीक्षा धारण कर सीधे जंगल चले जाते हैं। उपदेश के बिना समग्यदर्शन भी संभव है। जानकर भी शास्त्र का श्रद्धान नहीं करना शास्त्र का अवर्णवाद है। मोक्ष मार्ग का निरूपरण करते समय स्वयं को संयत कर लेना चाहिए, वरना स्वयं के साथ-साथ मोक्ष मार्ग का भी बिगाड़ हो जाता है। कषाय के रूप अनेक प्रकार के होते हैं। जिस तरह सूर्य चंद्रमा और दीपक से अलग अलग रोशनी मिलती है। मुझे मोक्ष मार्ग मिला है तो दूसरों को भी प्राप्त हो जाए, ऐसा बात्सल्य भाव ज्ञानी को होता है। जिस तरह गाय अपने बछड़े के प्रति वात्सल्य भाव रखती है। जो केवल ज्ञान का विषय होता है वह उसे मति ज्ञान और श्रुत ज्ञान का विषय नहीं बना सकते ।

••••••••• www.jinvaani.org •••••••••
••••••• Jainism' e-Storehouse •••••••

#Jainism #Jain #Digambara #Nirgrantha #Tirthankara #Adinatha #LordMahavira #MahavirBhagwan #RishabhaDev #Ahinsa #AcharyaVidyasagar

News in Hindi

UPDATE -बैंगलोर से श्रवणबेलगोला/ बाहुबली जी जाना आसान.. ट्रेन start! #बाहुबलिभगवान #Shravanbelgola #Gomesthwara 2018 में महामस्तकअभिषेक #share

केन्द्रीय रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभु जी द्वारा दिनांक 26 मार्च को यशबंतपुर, बंगलुरु रेलवे स्टेशन पर बंगलुरु से श्री श्रवणबेलगोला होकर हसन (कर्णाटक) जाने वाली सुपर फास्ट ट्रेन न. 22679 / 22680 (यशबंतपुर - हसन - यशबंतपुर डेली सुपरफास्ट इंटरसिटी एक्सप्रेस) हरी झंडी दिखा कर शुभारम्भ करने से जैन समाज का श्री श्रवणबेलगोला जी पहुचना हुआ आसान -विश्व जैन संगठन

दक्षिण पश्चिम रेलवे द्वारा यशवंतपुर, बंगलुरु रेलवे स्टेशन से श्री श्रवणबेलगोला के लिये सीधी रेल सेवा के शुभारम्भ में कर्नाटक के मुख्यमंत्री जी, श्री हच डी देवगौड़ा (पूर्व प्रधान मंत्री), श्री सदानंद गौड़ा (केंद्रीय मंत्री), श्री अनंत कुमार (केंद्रिय मंत्री), ए. मंजु (मंत्री), कर्नाटक के सांसद और विधायको आदि ने हरी झंडी दिखा कर आरम्भ की! सभी सहयोगी राजनेताओ एवं रेलवे अधिकारियों को धन्यवाद....

https://twitter.com/sureshpprabhu/status/845891040338837504

यशबंतपुर - हसन डेली सुपरफास्ट इंटरसिटी एक्सप्रेस (ट्रेन न. 22679) प्रतिदिन बंगलुरु से सायं 6.15 बजे चलकर श्रवणबेलगोला स्टेशन पर रात्री 8.10 बजे पहुचेगी!

हसन - यशबंतपुर डेली सुपरफास्ट इंटरसिटी एक्सप्रेस (ट्रेन न. 22680) प्रतिदिन श्रवणबेलगोला स्टेशन से प्रात: 7.06 पर चलकर बंगलुरु प्रात: 9.15 बजे पहुचेगी!

The much awaited train service along the newly laid railway line between Bengaluru (Yeshwantpur) and Hassan inaugurated by Union Minister for Railways Suresh Prabhu today.

The introduction of Train Number 22679/22680, Yeshwantpur-Hassan-Yeshwantpur Daily Superfast Intercity Express, goes a long way in cutting down travel time for passengers who otherwise had to take trains via Mysuru to reach Hassan and onwards to Mangaluru.

Train No. 22680, Hassan-Yeshwantpur Daily Superfast Intercity Express departs Hassan at 6:30 am and reaches at Shravanabelagola at 7:06/7:07 am.

In the return direction, Train No. 22679, Yeshwantpur-Hassan Daily Superfast Intercity Express departs Yeshwantpur at 6:15 pm and arrives at Shravanabelagola at 8:09/8:10 pm.

The train will have 14 coaches comprising of four Second Class Chair Car Coaches, eight Deendayalu Coaches and two Second Class Luggage-cum-Brakevan /Disabled Coaches.

Former Prime Minister HD Deve Gowda and Karnataka chief minister Siddarmaiah also particpated in the inaugural event.

- - - - - - - www.jinvaani.org @ Jainism' e-Storehouse.

#Jainism #Jain #Digambara #Nirgrantha #Tirthankara #Adinatha #LordMahavira #MahavirBhagwan #RishabhaDev #Ahinsa #AcharyaVidyasagar

Share this page on: