11.07.2019 ►Jalgaon ►Sadhvi Nirvan Shree Entered for Chaturmas

Published: 14.07.2019
Updated: 14.07.2019

Jalgaon: 11.07.2019

Sadhvi Nirvan Shree entered for Chaturmas.Rally was taken out up to Anuvrat Bhawan. Kishor Mandal also participated in rally. Sadhvi Nirvan Shree inspired people to do Sadhana. Sadhvi Yogkshem Prabha told Chaturmas is right time to do practice of Gyan, Darshan and Charitra. Suresh Dada Jain also attended function

भव्य एवं विशाल स्वागत जुलुस एवं सदभावना रैली के साथ विदुषी साध्वी श्री निर्वाणश्रीजी का मंगल प्रवेश
शांतिदूत आचार्य श्री महाश्रमणजी की विदुषी शिष्या साध्वीश्री निर्वाणश्रीजी ठाणा-6 का जलगाँव अणुव्रत भवन में चातुर्मासिक प्रवास हेतु प्रवेश अत्यंत उल्लासपूर्ण माहौल में हुआ! सभा के पूर्व अध्यक्ष राजकुमारजी सेठिया के निवास स्थल से भव्य एवं विशाल सदभावना रैली के साथ साध्वीश्री नें प्रस्थान किया! सबसे आगे रैली का शुभारंभ कर रही थी केसरिया परिधान में भक्ति एवं उत्साह की प्रतीक महिलाएँ! जैन ध्वज के साथ किशोर मंडल साध्वीश्री की अगवानी कर रहा था! अपनी सहवर्तिनी साध्वियों के साथ साध्वी निर्वाणश्रीजी परम प्रसन्नता के साथ इस स्वागत जुलुस को गति प्रदान कर रही थी! पीछे किशोर मंडल, तेयुप, टी पी एफ व सभा के सदस्य अपने-अपने बैनर के साथ जयघोषों से गगन धरा गुंजा रहे थे! जलगाँव नगर की गली कूंचों मे जैन शासन व तेरापंथ धर्म शासन के जयनाद के साथ यह विराट रैली अणुव्रत भवन में पहुंच कर स्वागत सभा में परिवर्तित हो गई!
स्वागत समारोह को संबोधित करते हुए विदुषी साध्वीश्री ने कहा - चार माह का समय भीतर की स्थिरता को बढाने वाला है! अपनी चेतना में स्थिरता का श्रेष्ठ माध्यम है ध्यान. पावस प्रवास से पूर्व ध्यान शिविर की समायोजना से एक नया अध्याय प्रारंभ हुआ! स्वाध्याय, जप एवं तप से आत्मा को भावित करने का यह समय है! ग्यारह-रंगी के तप के साथम हम चातुर्मास शुरु कर रहे है! प्रबुद्ध साध्वी डॉ योगक्षेमप्रभाजी ने अपने प्रेरक व्यक्तव्य में कहा - चातुर्मास का काल पंचधार की आराधना का पवित्र समय है! ज्ञान, दर्शन, चरित्र, तप और वीर्य की आराधना में स्वयं को नियोजित करें, यही हमारा आवाहन है!
समाजभूषण, पूर्व विधायक सुरेशदादा जैन, जलगाँव से आमदार राजूमामा भोळे, सकल जैन संघ के अध्यक्ष दलुभाऊ जैन ने सफलतम चातुर्मास की शुभकामनाँए दी! तेरापंथ कन्या मंडल, जलगाँव की कन्याओं ने श्रीमती कंचन छाजेड़ के नेतॄत्व में भावपूर्ण गीत से सतिवर का हार्दिक स्वागत किया! साध्वीवॄंद ने समवेत स्वरों में ज्ञान-दर्शन चरित्र व तप की अभिवॄद्धी की प्रेरणा देते हुए सधे हुए स्वरों में सुमधुर गीत की प्रस्तुति दी!
अपने भावों को अभिव्यक्ति के क्रम में सभा अध्यक्ष माणकचंदजी बैद, खान्देश सभा अध्यक्ष अनिलजी साँखला, तेयुप से राजेश धाडेवा, टी पी एफ् से वर्षा चोरडिया, तेममं से संतोष छाजेड़ ने उद्गार व्यक्त किए!तेरापंथी महासभा के संरक्षक नानकराम जी तनेजा कार्यक्रम मे उपस्थित थे।
समागत महानुभवों का सभा की और से साहित्य आदि से सम्मान किया गया! मंच संचालन सभा के मंत्री नोरतमलजी चोरडिया ने किया, आभार प्रदर्शन सभा सहमंत्री नीरज समदरिया ने किया।

Sources
Sushil Bafana
Share this page on:
Page glossary
Some texts contain  footnotes  and  glossary  entries. To distinguish between them, the links have different colors.
  1. Anuvrat
  2. Bhawan
  3. Charitra
  4. Chaturmas
  5. Darshan
  6. Gyan
  7. Jalgaon
  8. Kishor
  9. Mandal
  10. Sadhana
  11. Sadhvi
  12. Sadhvi Nirvan Shree
  13. Sadhvi Yogkshem Prabha
  14. Sushil Bafana
  15. आचार्य
  16. ज्ञान
  17. दर्शन
Page statistics
This page has been viewed 106 times.
© 1997-2020 HereNow4U, Version 4
Home
About
Contact us
Disclaimer
Social Networking

HN4U Deutsche Version
Today's Counter: