12.05.2011 ►Muni Balchand Served Sangh ◄Acharya Mahashraman

Published: 12.05.2011
Updated: 02.07.2015

News In English

Location:

Rajsamand

Headline:

Muni Balchand Served Sangh ◄Acharya Mahashraman

Content:

Acharya Mahashraman described Muni Balchand a monk dedicated to sangh and served sangh very well. his will power was strong. Sadhvi Pramukha Kanakprabha also paid tribute to him and told he always inspired younger monks.

News in Hindi:

'सेवक व संकल्पवान थे मुनि बालचंद' -आचार्य महाश्रमण

Thursday, 12 May 2011 (जैन तेरापंथ समाचार ब्योरो)

राजसमंद । आचार्य महाश्रमण ने कहा कि मुनि बालचंद उत्साही संत सेवक व संकल्पवान थे। उन्होंने संघ की बहुत सेवा की और संघ ने भी उनकी खूब सेवा की। वे यहां प्रज्ञा विहार में बुधवार को आयोजित स्मृति सभा में हजारों श्रद्धालुओं को सम्बोधित कर रहे थे। इस मौके पर उन्होंने मुनि बालचंद को गणवत्सव की उपाधि से अलंकृत किया। आचार्यने कहा कि प्रमाद से पुण्य क्षीण हो जाता है, इसलिए आलस्य-प्रमाद नहीं करें। आदमी साधु बनता है तो वह निष्क्रमण करता है, साधना करता है। सफलता के उत्साह में कभी कमी नहीं आनी चाहिए। साधना का विकास करके सफलता हासिल की जा सकती है।

हर व्यक्ति को आत्मतोष होना चाहिए कि साधना की दिशा में आगे बढ रहा हूं। उन्होंने कहा कि साधना के दो आयाम होते हैं। कषाय खत्म होने चाहिए और निर्धारित आधार के प्रति जागरूकता होनी चाहिए।

साध्वी प्रमुखा कनकप्रभा ने कहा कि मुनि बालचंद संघ के खैरख्वाह साधु थे। उन्होंने सदैव युवाओं का उत्साहवर्द्धन किया। मंत्री मुनि सुमेरमल ने कहा कि वे दृढ संकल्पित, सहयोगी भाव, गुरू दृष्टि, संत दृष्टि व स्व दृष्टि रखने वाले मुनि थे। साध्वी विश्रुत विभा ने कहा कि मुनि बालचंद में संत निष्ठा, गुरू निष्ठा, मर्यादा व आचरण के गुण कूट-कूट कर भरे थे।

मुनि गिरीश कुमार ने भावांजलि अर्पित करते हुए कहा कि उन्हें मुनि बालचंद की अंतिम समय में सेवा का सुअवसर मिला, जो उनके लिए सौभाग्य है। मोहजीत मुनि ने संचालन करते हुए कहा कि उनमें अनेक विशेषताएं थीं। उन्होंने गुरूसेवा का अनूठा उदाहरण प्रस्तुत किया, इसलिए उन्हें शासनश्री की उपाधि से अलंकृत किया गया। मुनि किशनलाल स्वामी, मुमुक्षु शांता जैन सहित कई जैन मुनियों व समाज के वरिष्ठ लोगों ने विचार व्यक्त किए। दो मिनट का मौन रखकर भावांजलि दी गई।

Sources
Jain Terapnth News

News in English: Sushil Bafana

Share this page on:
Page glossary
Some texts contain  footnotes  and  glossary  entries. To distinguish between them, the links have different colors.
  1. Acharya
  2. Acharya Mahashraman
  3. Jain Terapnth News
  4. Mahashraman
  5. Muni
  6. Muni Balchand
  7. Rajsamand
  8. Sadhvi
  9. Sadhvi Pramukha
  10. Sadhvi Pramukha Kanakprabha
  11. Sangh
  12. Sushil Bafana
  13. आचार्य
  14. आचार्य महाश्रमण
  15. भाव
  16. मंत्री मुनि सुमेरमल
  17. मुनि किशनलाल
  18. मुनि गिरीश कुमार
  19. स्मृति
Page statistics
This page has been viewed 1276 times.
© 1997-2020 HereNow4U, Version 4
Home
About
Contact us
Disclaimer
Social Networking

HN4U Deutsche Version
Today's Counter: